बाड़मेर की तहसीलें,बाड़मेर की नई तहसीलें

बाड़मेर की तहसीलें

बाड़मेर की तहसीलें
बाड़मेर की तहसीलें,

बाड़मेर की तहसीलें आप इस पोस्ट में बाड़मेर की कुल तहसीलें, बाड़मेर के कुल कितने तहसील है, बाड़मेर में वर्तमान में कितनी तहसील हैं, बाड़मेर की नई तहसीलें, अभी इन सवालों के जवाब मिलेंगे

बाड़मेर जिले में वर्तमान में 14 तहसीलें है

1. गडरा रोड
2. रामसर
3. सेड़वा
4. चौहटन5. धोरीमना
6. गुडामालानी
7. सिणधरी
8. बाड़मेर9. शिव
10. गिड़ा
11. बायतु
12. पचपदरा
13. समदड़ी

14.सिवाना

शिव क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ी तहसील है और जनसंख्या के आधार पर बाड़मेर स्वयं सबसे बड़ी तहसील है

1. बाड़मेर-

 बाड़मेर यह आजादी के बाद 1949 में तहसील के रूप में स्थापित हुआ था उस वक्त यह बहुत ही विस्तृत तहसील थी जिनमें कई भागों को तोड़कर नई तहसील  बनाई गई बायतु का गठन भी बाड़मेर से हुआ है हालांकि यह आज भी जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ी तहसील बाड़मेर की 14 तहसीलों में वर्तमान में बाड़मेर आगोर महाबार तहसील के लिए मांग कर रहे हैं बाड़मेर तहसील मुख्यालय जिला मुख्यालय में स्थित है।


https://www.barmernewstrack.comhttps://www.barmernewstrack.com

2. शिव-

 शिव बाड़मेर जिले की सबसे बड़ी तहसील है क्षेत्रफल की दृष्टि से शिव तहसील बाड़मेर जिले के उत्तरी भाग में स्थित है, मिस्टी शिव तहसील की अधिकांश सीमा जैसलमेर जिले से लगती है, शिव तहसील की सीमा भारत और पाकिस्तान सीमा से भी लगती है, शिव तहसील से ही ही गडरा रोड रामसर और बायतु का निर्माण हुआ शिव तहसील में अधिकतम अधिकतम जनसंख्या मुस्लिम व राजपूत है शिव तहसील विधानसभा क्षेत्र भी है शिव का वर्तमान विधायक अमीन खान कांग्रेस पार्टी से
शिव तहसील के माध्यम से नेशनल हाईवे 68 गुजरता है, साथ ही शिव तहसील राजस्थान की सबसे कम जनसंख्या घनत्व वाली तहसीलों में भी शामिल है ।
शिव तहसील में प्रमुख स्थानों में गरीब ना  थ जी का मंदिर और रामदेव जी की जन्म भूमि उंडू कश्मीर भी है और ब टाडू का जल महल भी है।

3.चौहटन

 चौहटन राजस्थान राज्य के दूसरे सबसे बड़े जिले की एक प्रमुख तहसील है। चौहटन बाड़मेर जिला मुख्यालय से करीबन 50 किलोमीटर पश्चिम की और पाक सीमा से सटा कस्बा है। चौहटन का पुराना नाम चौथा पुर पाटन नगरी था। चौहटन पाक सीमा से इलाका है। चौहटन भारत पाक सीमा से मात्र 45 किलोमीटर दूर बसा हुआ है।बाड़मेर जिले से 50 किलोमीटर दूर जालौर और पाक सीमा से सटा हुआ कस्बा साथ ही यह बाड़मेर का सबसे अधिक जनसंख्या वाला विधानसभा क्षेत्र है और क्षेत्रफल में शिव के बाद दूसरे स्थान पर क्षेत्र को मालाणी के नाम से भी जाना जाता है यह क्षेत्र काफी पिछड़ा हुआ क्षेत्र है 2011 की जनगणना के अनुसार चौहटन राजस्थान की सबसे कम साक्षरता वाली तहसील भी हैं यहां की महिला साक्षरता 40% है से भी कम है साथ ही यहां के लोग का कृषि व पशुपालन मुख्य व्यवसाय हैं और क्षेत्र हैं कांकरेज गाय की नस्ल और गोद के लिए भी प्रसिद्ध है साथ ही यहां पर राजस्थान की सबसे बड़ी ओरन पंचायत है
 चौहटन के अब वर्तमान समय में 3 तहसीलें भी बन चुकी है धनाऊ, सेड़वा और फागलिया
चौहटन तहसील बाड़मेर जिले के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में स्थित है प्रारंभ में यह बहुत बड़ी क्षेत्र वाली तहसील थी जनगणना 2011 के अनुसार राजस्थान की सबसे कम साक्षरता वाली तहसील भी है। इसी तहसील से ही सेड़वा तहसील का निर्माण हुआ और चौहटन तहसील का कुछ भाग रामसर तहसील और गडरारोड़ तहसील से भी मिलाए गए चौहटन की सीमा बाड़मेर मुख्यालय से और पाकिस्तान सीमा बनाती है और चौहटन तहसील की सीमा जालौर जिले से भी लगती है थी लेकिन वह भूभाग अ  ब सेड़वा तहसील में आता है चौहटन तहसील के प्रमुख स्थानों में  सुइयां धाम विरात्रा माता मंदिर आदि प्रमुख है चौहटन तहसील के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

4.धोरीमना तहसील-

 यह तहसील यह बाड़मेर जिले के दक्षिण भाग में स्थित है इस तहसील का निर्माण गुड़ामालानी तहसील से हुआ धोरीमना तहसील से ही नेशनल हाईवे 68 जो पहले 15 हुआ करता था से गुजरता है धोरीमना तहसील पहले काफी समय से पंचायत समिति था धोरीमना तहसील की सीमा जालौर जिले से लगती है इसके अलावा इसकी सीमा गुडामालानी चौहटन सेड़वा से भी लगती है।

5. सेड़वा तहसील-

 सेड़वा तहसील का निर्माण 2013 में हुआ यह तहसील भारत पाकिस्तान सीमा का अंतिम छोर स्थित है सेड़वा तहसील में ही बाड़मेर जिले का अंतिम गांव शाहगढ़ बाखासर सेड़वा तहसील में ही स्थित है अधिकतम जनसंख्या मुस्लिम है। सेड़वा तहसील काफी पिछड़ी तथा कम साक्षरता वाली तहसील है । सेड़वा तहसील से ही भारत माला प्रोजेक्ट गुजरता है। और सेड़वा तहसील में ही गंगासरा गांव स्थित है ।

6.गुडामालानी तहसील-

 गुडामालानी तहसील बाड़मेर के दक्षिणी और दक्षिणी पूर्वी क्षेत्र में स्थित है जनगणना 2011 के अनुसार यह सर्वाधिक ग्रामीण जनसंख्या वाली तहसील है ।
गुडामालानी तहसील से ही धोरीमना तहसील का निर्माण हुआ और इसका कुछ भाग सिणधरी तहसील में मिलाया गया गुडामालानी तहसील की एक सीमा जालौर से लगती है। गुडामालानी तहसील 1 विधानसभा क्षेत्र भी है गुडामालानी तहसील के वर्तमान विधायक हेमाराम चौधरी कांग्रेस पार्टी से 

7. गडरा रोड तहसील 

यह तहसील बाड़मेर के पश्चिमी छोर में स्थित है यह नवनिर्मित तहसील है जो शिव का कुछ भाग चौहटन का है गडरा रोड में ही भारत का अंतिम रेलवे स्टेशन मुनावाबा है जो भारत पाक सीमा पर का अंतिम छोर है ।इंदिरा गांधी नहर का अंतिम छोर भी गडरा रोड में है। अधिकतम पाकिस्तान शरणार्थी लोग रहते है जो 1971 भारत पाक युद्ध के बाद यहां आकर बसे थे। 

8.रामसर तहसील-

 रामसर तहसील 2013 में तहसील के रूप में गठित हुई यह काम क्षेत्रफल वाली तहसील है और बाड़मेर के दक्षिण पश्चिम में है यह अंतर्वर्ती तहसील है जो शिव , बाड़मेर , चौहटन से मिलकर बनी है ।

9. सिणधरी -

तहसील सिणधरी तहसील का गठन 2013 में हुआ यह बाड़मेर से सुदूर दक्षिण पूर्वी भाग में स्थित है   

10. बायतु तहसील-

 बायतु तहसील बाड़मेर जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर पूर्व की ओर स्थित है पूर्व में यह तहसील बाड़मेर का ही एक भाग थी । यह बाड़मेर और बालोतरा के मध्य स्थित है तहसील तेल के लिए प्रसिद्ध है और इसी तहसील में नागाणा स्थित है।
बायतु तहसील 1 विधानसभा क्षेत्र भी है यहां के वर्तमान विधायक हरीश चौधरी कांग्रेस पार्टी से

11. पचपदरा तहसील-

 पचपदरा तहसील बाड़मेर के पूर्वी छोर पर स्थित है यह तहसील औद्योगिक नगरी और वस्त्र नगरी बालोतरा बी सी तहसील में स्थित है बाड़मेर की सर्वाधिक प्रदूषित क्षेत्र भी है और यहीं पर इस्थित जसोल मंदिर है पचपदरा तहसील 1 विधानसभा क्षेत्र भी है।

12. गिड़ा तहसील-

 यह तहसील बाड़मेर के उत्तरी पूरी भाग नवनिर्मित तहसील है

13. समदड़ी तहसील-

 समदड़ी तहसील के बाड़मेर जिले से सुदूर पूर्व में स्थित है इसकी सीमा जोधपुर जिले से लगती है

14.सिवाना तहसील-वर्तमान में शिवाना भारत के सबसे बड़े राज्य राजस्थान के दूसरे सबसे बड़े जिले बाड़मेर की एक प्रमुख तहसील है

सिवाना बाड़मेर से 150 किलोमीटर दूर स्थित है स्थान प्रमुख रूप से अपने किले के लिए प्रसिद्ध है जिसको स्थानीय लोगों द्वारा गढ़ सिवाना के नाम से भी बहुत प्रसिद्ध है मैं आंकड़े 2011 के अनुसार 130 गांव में जनसंख्या 213648 है


शिवाना की समुद्र तल से ऊंचाई 184 मीटर है
संपूर्ण आबादी 213748 शिवाना की प्रमुख बोलियां में की प्रमुख मारवाड़ी बोली तथा हिंदी भाषा का प्रयोग होता है शिवाना का पिन कोड 344044 तथा टेलीफोन कोड  912901 
वाहन पंजीकरण संख्या आरजे 39
निकटतम बड़ा शहर बालोतरा
विधान क्षेत्र शिवाना
लोकसभा क्षेत्र बाड़मेर जैसलमेर
वर्तमान विधायक 2019 अमित सिंह भायल बीजेपी से
शिवाना के प्रमुख स्थल आशापूर्णा मंदिर बाबा रामदेव मंदिर मंच गुरु मंदिर प्रमुख है शिवाना सेट चारों ओर से अरावली पर्वतमाला से गिरा हुआ है एकमात्र बाद मेली बांध स्थित है 
शिवाना का मुख्य पैसा खेती
प्रमुख फसलों में खरीद में बाजरा मूंग तिल गवार व जवार
रवि की फसलों में जीरा सरसों अरंडी आदि प्रमुख है।
Previous
Next Post »