- कोरोना की रोकथाम से जुड़ी राजस्थान से बड़ी खबर barmernewstrack

कोरोना की रोकथाम से जुड़ी राजस्थान से बड़ी खबर barmernewstrack

कोरोना की रोकथाम से जुड़ी राजस्थान से बड़ी खबर  barmernewstrack

कोरोना की रोकथाम से जुड़ी राजस्थान से बड़ी खबर 

जयपुर- जांचों में तेजी के लिए खरीदी जाएगी कोबास-8800 मशीन, चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने नई मशीन खरीदने के दिए आदेश एफडीए (फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन अमेरिका) से है अप्रूव्ड प्रदेश में 3000 से ज्यादा जांचो में हो सकेगा प्रतिदिन इजाफा देश में राजस्थान और तेलंगाना है पहले ऐसे राज्य खरीदी जा रही है इस तरह की हाईटेक मशीन ।

बेहतर चिकित्सकीय प्रबंधन से राज्य में कोरोना की मृत्यु दर महज 1.43 फीसद, देश में राज्य 15वें नंबर पर

-चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री 

जयपुर, 23 अप्रेल। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया सरकार के बेहतरीन चिकित्सकीय प्रबंधन के चलते कोरोना से होने वाली मृत्यु दर केवल 1.43 प्रतिशत है। राज्य में जो मौतें हुई हैं वे मरीज भी कोविड नहीं अन्य घातक बीमारियों से ग्रसित थे। 

डॉ. शर्मा ने बताया कि कोरोना से होने वाली मौतों का राष्ट्रीय प्रतिशत 3.18 है।  प्रदेश यह  काफी कम है और प्रदेश देश मे 15 वे स्थान पर है। 

उन्होंने कहा कि राज्य में पॉजीटिव से नेगेटिव होने वाले मरीजों की दर भी अन्य राज्यों की तुलना में खासी बेहतर है। दोपहर 2 बजे तक जांच के लिए लगभग 70 हजार सैंपल लिए जा चुके थे। इनमें से 1937 को कोरोना पॉजीटिव चिन्हित किया गया है। खुशी की बात यह है कि इनमें से 407 लोग पॉजीटिव से नेगेटिव हो चुके हैं और 134 को तो डिस्चार्ज भी किया जा चुका है।


सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर गिरफतार


जयपुर 23 फरवरी। चूरू जिले की थाना बीदासर पुलिस ने गुरुवार को सोशल मीडिया फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी बालचन्द पुत्र तिलोका राम गुरडा (63) वार्ड न 24 बीदासर का रहने वाला है।
        पुलिस अधीक्षक श्रीमती तेजस्वनी गौतम ने बताया कि लाॅक डाउन के दोरान सोशल मीडिया पर विशेष निगरानी रखी जा रही है। इसी क्रम में जानकारी मिली थी कि आरोपी सोशल मीडिया फेसबुक पर गलत टिप्पणी कर रहा है। इस पर गुरुवार को थानाधिकारी बीदासर व उनकी टीम ने आरोपी को धारा 108,151 मे गिरफतार कर लिया।         
        
                                      

कोरोना योद्धाओं को समुचित सुरक्षा उपलब्ध कराने राज्य स्तर पर आईजी क्राइम विशाल बंसल नोडल अधिकारी नियुक्त


       शीघ्र जिला स्तर पर भी आरपीएस रेंक के अधिकारी होंगे नियुक्त

जयपुर 23 अप्रैल। डॉक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टॉफ, आशा सहयोगिनी
एवं कोविड- 19 से लड़ने वाले अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं को समुचित सुरक्षा-व्यवस्था उपलब्ध कराने एवं उनकी शिकायतें 24x7 सुनने हेतु पुलिस मुख्यालय ने राज्य स्तर पर महानिरीक्षक पुलिस, अपराध श्री विशाल बंसल को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है, एक-दो दिनों में सभी जिलों में भी आरपीएस स्तर के अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाएगा। इसके लिये पुलिस मुख्यालय ने गुरुवार को सभी रेंज आईजी व एसपी एव कमिश्नरेट जयपुर व जोधपुर को निर्देशित किया है।

        महानिदेशक पुलिस प्रशासन, कानून एवं व्यवस्था श्री एम एल लाठर ने इस सम्बंध में गुरुवार को दो अलग-अलग आदेश जारी किये है। पहले आदेश में राज्य स्तर पर श्री विशाल बंसल को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है, जबकि दूसरे आदेश में जिला स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त करने एवं 24x7 हैल्पलाईन नम्बर स्थापित करने हेतु निर्देशित किया है। जो इंडियन मेडिकल काउंसिल(IMA) की जिला एवं राज्य इकाई से सम्पर्क बनाये रखेगी।
      

कोरोना वॉरियर्स पर हमला करने वालों की अब खैर नही


        महामारी रोग अध्यादेश, डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 एवं भादस की विभिन्न धाराओं में होगा मुकदमा दर्ज

जयपुर 23 अप्रैल। सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशानुसार कोविड-19 योद्धाओं को समुचित सुरक्षा व्यवस्था प्रदान करने हेतु राज्य एवं जिला स्तर पर नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जा रही है।  कोविड-19 के योद्धाओं डॉक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टॉफ, आशा सहयोगिनी एवं अन्य स्वयं -सेवकों पर अब यदि कर्त्तव्य निर्वहन के दौरान हमला होता है तो ऐसी परिस्थिति में 22 अप्रेल 2020 को संशोधित महामारी रोग अध्यादेश (THE EPIDEMIC DISEASES ORDINANCE), भारतीय दण्ड सहिंता एवं डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 के नियमानुसार कार्रवाई कर न्यायालय में आरोप पत्र पेश किया जाएगा। 

      गौरतलब है कि कोविड-19 महामारी से लड़ने वाले योद्धाओं डॉक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टॉफ, आशा सहयोगिनियों एवं अन्य स्वयं-सेवको के कार्यों पर पिछले कुछ समय से असामाजिक तत्वों द्वारा व्यवधान डाला जाकर इन पर हमले किए जा रहे है । इस हमले में कई वारियर्स वीर गति को प्राप्त हुए हैं। असामाजिक तत्वों द्वारा वीर गति को प्राप्त हुए कोरोना योद्धाओं के अंतिम संस्कार में भी कई स्थानों पर व्यवधान डाला गया। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने 8 अप्रेल 2020 को आदेश देते हुए कोरोना योद्धाओं को समुचित सुरक्षा उपलब्ध कराने हेतु समस्त राज्य सरकारों को आदेशित किया गया। 

      कोविड-19 से लड़ने वाले योद्धाओं को समुचित सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने एवं उनकी शिकायते सुनने हेतु 24x7 एक समर्पित नोडल अधिकारी एवं हैल्पलाईन स्थापित की जा रही है जो ऐसे अस्पतालों या स्थानों जहाँ कोविड-19 के संक्रमित रोगियों एवं संदिग्ध व्यक्तियों को ईलाज हेतु रखा गया है अथवा क्वारनटाईन किया है, इन स्थानों पर नियोजित सभी डॉक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टॉफ एवं अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों को पूर्ण पुलिस सुरक्षा मुहैया कराएंगे।इसके साथ ही संक्रमितों का पता लगाने हेतु स्क्रीनिंग व सर्वे टीमों को सम्पूर्ण सुरक्षा






एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ