- जानिए किस तरह स्विट्जरलैंड ने भारत के करोना से लड़ने के जज्बे को किया सलाम

जानिए किस तरह स्विट्जरलैंड ने भारत के करोना से लड़ने के जज्बे को किया सलाम

जानिए किस तरह स्विट्जरलैंड ने भारत के करोना से लड़ने के जज्बे को किया सलामस्विट्जरलैंड ने अनोखे ढंग से भारत के जज्बे को किया सलाम

barmernewstrack

स्विट्जरलैंड ने अनोखे ढंग से भारत के जज्बे को किया सलाम

स्विट्जरलैंड की सबसे ऊंची चोटी अल्फ़ास पर लाइटिंग द्वारा तिरंगे को दर्शाया गया इस तस्वीर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा कि कोरोना वायरस की जंग में हम सब साथ में है।

वैसे कोरोनावायरस से निपटने को लेकर  डब्ल्यूएचओ सहित कई अन्य देशों ने भारत जी तारीफ कर चुके हैं अब इसमें स्विजरलैंड का भी नाम जुड़ गया वहां भारत की तारीफ का अंदाज कुछ जुदा नजर आया।
स्विट्जरलैंड की सबसे ऊंची चोटी को भारत के तिरंगे की रोशनी से भारत को अपने अलग अंदाज में सम्मान दिया।

भारत के लिए सामान की वजह यह भी है कि भारत ने इस संकट की घड़ी में एशिया और यूरोप अफ्रीका या अमेरिका के देश सभी देशों की पुरजोर मदद की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पर्वत की चोटी की तस्वीर खुद रिट्वीट की  

और लिखा है कि इस संकट की घड़ी में हम सब साथ हैं और दुनिया को भी कोविड 19के संकट में एकजुट होकर लड़ रही है। इस लड़ाई में मानवता की जीत होगी 
barmernewstrack


14690 फिट उचे पर्वत को तिरंगे के रंग से रोशन करने का काम किया है सीजरलैंड की लाईब आर्टिस्ट गेरी हॉब्स ने इडली और सीधे स्विट्जरलैंड की सीमा पर स्थित 44078  ऊंचे पर्वत पर  पहले भी गेरी स्टे होम का संदेश दे चुके हैं। स्विट्जरलैंड में आज लॉकडाउन खत्म हो रहा है

गैरी का लक्ष्य इस अवधि तक देश की इमारतों और पर्वत के जरिए लोगों को करो ना से लड़ने का संदेश देना हैइसी सिलसिले में उन्होंने पर्वत पर भारत के तिरंगे को जगह दी और भारत को सम्मान दिया इधर जर्मन के टूरिस्ट ऑफिस ने ट्वीट करके कहा है कि स्विट्जरलैंड के लैंड मार्ग पर भारत के तिरंगे का होना यह संदेश देता है कि भारतीयों को करो ना के खिलाफ लड़ाई में आशा और शक्ति प्रदान करना है


ट्वीट करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा है कि- दुनिया COVID-19 से एक साथ लड़ रही है। मानवता निश्चित रूप से इस महामारी को दूर करेगी।
इसके साथ ही मोदी ने रिट्वीट किया-
INDIAN TRICOLOR ON THE MATTERHORN MOUNTAIN: Indian Tricolor of more than 1000 meters in size projected on Matterhorn Mountain, Zermatt, Switzerland to express Solidarity to all Indians in the fight against COVID 19.  A big Thank You to @zermatt_tourism for the gesture. @MEAIndia


भारत में ताजा आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या निम्न है

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह - 14, आंध्र प्रदेश - 603, अरुणाचल प्रदेश - 1 असम - 34,बिहार -86,चंडीगढ़ - 23, छत्तीसगढ़ - 36, दिल्ली - 1893, गोवा - 7, गुजरात -1604, हरियाणा - 233, हिमाचल प्रदेश - 39, जम्मू और कश्मीर - 341,झारखंड - 35, कर्नाटक - 384,केरल - 800, लद्दाख - 1, मध्य प्रदेश - 180, महाराष्ट्र - 3651, मणिपुर - 2, मेघालय - 11, मिजोरम - 1, ओडिशा - 61, पुदुचेरी - 7, पंजाब - 219, राजस्थान - 1351, तमिलनाडु - 1372, तेलंगाना - 844, त्रिपुरा - 2, उत्तराखंड - 82, उत्तर प्रदेश - 1084, पश्चिम बंगाल - 310

Barmer me corona ki dustak Barmer news track


पूरी दुनिया में करोना वायरस के मरीजों की स्थिति निम्न प्रकार है

कोरोनोवायरस मामलों ने पिछले 2.3 मिलियन  है, जिसमें यूएसएस 7.34 लाख मामलों की रिपोर्टिंग की गई है, जॉन्स होप्स यूनिवर्सिटी के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार।
 स्पेन 194,416, इटली 175,925, फ्रांस (152,9780, जर्मनी (143,724) और यूनाइटेड किंगडम (115,314)

दुनिया भर में 1.6 लाख से अधिक लोग वायरस से अपनी जान गंवा चुके हैं। संयुक्त राज्य अमेरिका , अब सबसे बुरी तरह प्रभावित देश है, 735,287 संक्रमण के साथ 39,090 लोगों की मृत्यु दर्ज की गई। देश में कम से कम 66,819 मरीज बरामद हुए हैं। 23,227 मौतों और 175,925 पुष्ट संक्रमणों के साथ इटली अगला सबसे अधिक प्रभावित देश है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ